Mudda Aapka: भूजल में बढ़ता जहर | 21 December 2021

आज एक ऐसे पर बात करेंगे जो सीधे सीधे आपसे जुडा है। जीवन से जुडा है। क्योंकि मुदृा पानी का है। भूजल का है। जी हां देश के चार सौ से अधिक जिलों के भूजल में घातक रसायन घुलने से पीने के स्वच्छ व शुद्ध जल का गंभीर संकट पैदा हो गया है। कई जिलों के भूजल में जहां पहले से ही फ्लोराइड,आर्सेनिक,आयरन और हैवी मेटल निर्धारित मानक से अधिक था वहीं अधिकतर जिलों में नाइट्रेट और आयरन की मात्रा बढ़ रही है। भूजल में नाइट्रेट बढ़ने के पीछे मानवजनित अतिक्रमण है। उन राज्यों के भूजल में नाइट्रेट ज्यादा बढ़ रहा है, जहां सघन खेती में फर्टिलाइजर का अंधाधुंध प्रयोग हो रहा है। घातक रसायनों के भूजल में घुलने से पेयजल की गुणवत्ता प्रभावित हो रही है। संसद में पूछे सवालों के जवाब में जल शक्ति मंत्रालय ने केंद्रीय भूजल आयोग की रिपोर्ट के आधार पर भूजल प्रदूषण का ब्यौरा दिया है।

Guest-

1. Dr Nupur Bahadur, Area Convener, TADOX Technology Centre for Water Reuse, TERI

2. Dr Sudhir Kumar Srivastava, Sr Scientist, CGWB

3-Nand Kumar Jha, Chief Engineer, Planning & Monitoring, WRD, Bihar

Anchor: Manoj Verma

Producer – Pardeep Kumar, Sagheer Ahmad

#SansadTV #groundwaterlevelsinIndia #पेयजल

Follow us on:

-Twitter: https://twitter.com/sansad_tv
-Insta: https://www.instagram.com/sansad.tv
-FB: https://www.facebook.com/SansadTelevi…
-Koo: https://www.kooapp.com/profile/Sansad_TV